IIT(BHU) के एक छात्र का खुला पत्र…

मैं आई आई टी (बी.एच.यू.) का एक छात्र हूँ. हम जब आई आई टी प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे होते हैं तो हमें बेहद ऊँचे ख्वाब दिखाये जाते हैं; और ऐसा माना लिया जाता है कि आई आई टी मतलब सुरक्षित भविष्य. परन्तु भविष्य तब सुरक्षित होगा जब वर्तमान सुरक्षित हो. यहाँ आई आई […]

सज़दा

लखनऊ की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी(KGMU) के सामने वाली सड़क पर चहल-पहल तेज हो गयी है सुबह के कुछ 9 बजे रहे हैं. और नवाबों के शहर की शहजादी साहिबा अभी तक आराम फरमा रहीं हैं. मोहतरमा जबसे हॉस्टल में आयीं हैं तबसे खुद को डॉक्टर समझने लगी हैं, सुबह 4 बजे शब्बा खैर होती […]

दि एलुमनाई मीट

“बात सन ‘64 की है उस वक्त की है जब ये स्वतंत्रता भवन नहीं था, सिरेमिक डिपार्टमेंट, डिपार्टमेंट ऑफ़ सिलिकेट टेक्नोलॉजी हुआ करता था, सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश श्री एन एच भगवती विश्विद्यालय के वी सी थे. मेरा दाखिला उस वक्त के बनारस कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग (BENCO) में हुआ. उस वक्त आई.एम.एस(IMS) और बेंको […]

MMV वाली लड़की

“तुम समझते क्यों नहीं हो श्वेतांक……शौक के लिये लिखना अलग बात है. तुम बहुत अच्छा लिखते हो….लेकिन सिर्फ प्यार भरी शायरी सुनकर पेट की भूख नहीं मिटती, ये कहानियाँ आपकी ख्वाहिशें पूरी नहीं कर सकतीं. सोसाइटी में जीने के लिये एक स्टेटस बना कर चलना पड़ता है. अब या तो तुम कोई कोर्स चुन लो […]

पूर्वी

पूर्वी एक मिडिल क्लास घर की प्यारी सी लड़की जो बनारस की गलियों में बड़ी हुयी थी। . नहीं प्रेम कहानी नहीं है… . पूर्वी बनारस के कम मशहूर SMS कॉलेज में पढ़ती थी मैनेजमेंट से स्नातक। . पूर्वी के अपने सपने थे अपनी ख्वाहिशें, उसे कुछ बनना था। कम्युनिकेशन स्किल अच्छा था और स्कूल […]

प्रेमिका से शादी -Story of my college, IIT(BHU)

शीर्षक कुछ अजीब सा है ना……. अरे कोई नहीं कुछ ऐसा ही है। हमारे समाज में कहा जाता है कि लव मैरिज ज्यादा सफल नहीं रहतीं। मेरा इस कॉलेज में आना कुछ कुछ ऐसा ही प्रसंग है। जैसे किसी आशिक़ ने घर वालों के खिलाफ जाकर अपनी मोहब्बत से निकाह कर लिया हो, और अब […]

ठाकुरत्व और प्रेम तत्व

FB पर बड़े गर्व से अपने ठाकुर होने का अहसास देती हुयी मूछों पर ताव देने वाली फ़ोटो खींच कर डालते थे, हमारे ठाकुर संग्राम सिंह सूर्यवंशी 18 की उम्र थी ठाकुर साहेब की और LLB कर रहे थे। ठाकुर साहिब की एक बात और प्रासंगिक थी कि लड़कियों से कुछ उखड़े उखड़े रहते थे। […]